बिलासपुर। जिला प्रशासन ने मंगलवार से छूट देकर आवश्यक समानों की बिक्री पर राहत दी, इस छूट का फायदा उठाकर अन्य व्यवसायी दूसरी दुकान खोल रहें है जिसकी अनुमति तक नही है इसका नज़ारा त्रिवेणी भवन के पास व्यापार विहार स्थिति पटेल ढाबे में दिखा, जहां धड़ल्ले से दुकान संचालक खोलकर नाश्ता व अन्य समान बेच रहा है जिस पर पुलिस व निगम प्रशासन कोई कार्रवाई नहीं कर रहा। जबकि यह खोलने की इजाजत तक नही हैं, जारी आदेश में सख्त उल्लेख है कि आवश्यक सामानों की ही बिक्री होगी अन्य समानों पर कोई छूट नही हैं। इसके बावजूद दुकान संचालक मुख्य मार्ग पर दुकान चला रहे है, जहाँ सोशल डिस्टेंसिंग तक का भी ख्याल रखा नहीं जा रहा है। फोटों में यह साफ दिख भी रहा है, लॉकडाउन को 1 महीने लगभग होने जा रहा है, इस बीच जिला प्रशासन ने सोमवार को भारत सरकार के निर्देश पर 20 अप्रैल से कुछ गतिविधियों पर अनुमति देकर राहत दी है। लेकिन इसका गलत फायदा उठाकर मनमानी कर रहे है।
जिले में अभी 144 धारा प्रभावशील है जिसका खुले तौर पर उल्लघंन हो रहा है, 5 से अधिक व्यक्ति एक साथ एकत्र नहीं हो सकते। लेकिन पटेल ढाबा में 8 से 10 लोग एकत्र होकर इसकी अनदेखी कर रहे है। यहाँ मौजूद लोगों द्वारा मास्क व सोशल डिस्टेंसिंग का भी पालन नहीं किया जा रहा है। यह संस्था व्यापार विहार में बने जोन कर्यालय के नजदीक ही चल रहा है, निगम प्रशासन भी इससे बेखबर है। जबकि यही निगम प्रशासन ठेले व छोटे व्यवसायियों पर कार्रवाई करते नजर आ जायेगा। मिलीभगत की सह पर यहाँ यहाँ व्यापार फल- फूल रहा है।