बिलासपुर। कोरोना संक्रमण की रोकथाम हेतु लॉकडाउन से प्रभावित ग्रामीण क्षेत्रों के साथ-साथ शहरी क्षेत्रों में भी ऐसे गरीब एवं जरूरतमंद परिवार जिनके पास राशन कार्ड नहीं है उन्हें पांच किलो मुफ्त चावल उपलब्ध कराने का निर्देश मुख्यमंत्री भूपेश बघेल द्वारा दिया गया है। नगर निगम बिलासपुर में आज इसकी शुरूआत तिफरा से की गई।
इस सम्बन्ध में कलेक्टर डॉ. संजय अलंग के निर्देशानुसार नगरीय क्षेत्र में नगरीय निकायों एवं ग्रामीण क्षेत्रों में ग्राम पंचायतों के माध्यम से चावल प्रदान किया जा रहा है।  प्रत्येक ग्राम पंचायत में दो-दो क्विंटल चावल इस योजना के तहत आबंटित करके रखा गया है जहां से जरूरतमंद व्यक्तियों को पांच किलो चावल उपलब्ध कराया जा रहा है। इसी तरह से सभी नगरीय निकायों एवं नगर निगम बिलासपुर में राशन दुकानों के माध्यम से पांच किलो चावल दिया जा रहा है। जिला कलेक्टर ने नगर निगम आयुक्त, जनपद पंचायतों तथा नगरीय निकायों को इस सम्बन्ध में निर्देश दिया है कि राशन कार्ड विहीन प्रत्येक जरूरतमंद व्यक्ति को पांच किलो चावल प्रदान किया जाये। नगरीय क्षेत्र में राशन वितरित करते समय हितग्राही का आधार नंबर या मोबाइल नंबर लिया जाये जिसका उपयोग यह सुनिश्चित करने के लिए किया जाये कि उसका नाम पूर्व से राशन कार्ड डाटा बेस में दर्ज नहीं है। जिला खाद्य नियंत्रक ने बताया कि नगरीय क्षेत्रों में भी आज से यह व्यवस्था शुरू कर दी गई है। प्रत्येक राशन दुकान में नगर निगम के माध्यम से राशन कार्ड विहीन व्यक्ति को पांच किलो चावल उपलब्ध कराया जा रहा है।