बिलासपुर। जिला अस्पताल बिलासपुर को संभागीय डेडिकेटेड कोविड-19 अस्पताल के रूप में तैयार करने का कार्य तेजी से चल रहा है। आज कलेक्टर डॉ. संजय अलंग ने अस्पताल का निरीक्षण कर अधिकारियों को आवश्यक निर्देश दिये।
जिला अस्पताल में बनाये जा रहे 100 बिस्तरों वाले कोविड 19 अस्पताल में कोरोना के उपचार के लिये मापदंड के अनुरूप सभी सुविधायें विकसित की जा रही हैं। यहां 28 बेड का आईसीयू वार्ड बनाया जा रहा है, साथ ही प्राइवेट रूम की भी व्यवस्था भी रखी गई है। साधारण कोरोना लक्षण के मामलों के लिए अलग वार्ड बनाये गये हैं। इसके अलावा स्पेशल आइसोलेशन वार्ड, सेंट्रल कमांड रूम भी तैयार किये जा रहे हैं। मरीजों से सोशल डिस्टेसिंग के साथ सम्पर्क के लिए माइक सिस्टम बनाया जा रहा है। उन्हें भोजन देने के लिए भी किचन और काउन्टर की व्यवस्था की जा रही है। मरीजों के प्रवेश व निकास के लिए अलग-अलग मार्ग बनाये गये हैं। प्रत्येक आईसीयू बेड में ऑक्सीजन पोर्ट, मॉनिटर स्टैंड, लगाये जायेंगे। अपशिष्ट के निपटान के लिए भी विशेष व्यवस्था की जा रही है। ऑपरेशन थियेटर में भी डॉफिंग जोन का निर्माण किया जा रहा है। ऑपरेशन थियेटर के लिए अलग प्रवेश द्वार रहेगा। कोविड-19 अस्पताल में ड्यूटी पर कार्यरत स्टाफ के लिए अलग आवासीय एवं क्वारांटाइन की व्यवस्था की जा रही है। डॉक्टरों और स्टाफ के लिये अलग रूम तैयार किये जा रहे हैं इसके अलावा प्रतीक्षा कक्ष भी तैयार किया जा रहा है। कोविड-19 अस्पताल में डॉफिंग जोन, टेली आईसीयू, ड्रेनेज सिस्टम से जुड़ा हुआ ट्रीटमेंट प्लांट तैयार किये जा रहे हैं। कलेक्टर ने इन सभी कार्यों का जायजा लिया और सम्बन्धित अधिकारियों को शीघ्रतापूर्वक कार्य पूर्ण करने का निर्देश दिया।